🔳योजना से पानी उपलब्ध न होने पर ग्रामीणों में रोष
🔳दूर दराज से सिर पर पानी ढोना बनी मजबूरी
🔳ग्राम प्रधान ने अधिशासी अभियंता को भेजा ज्ञापन
🔳विभागीय अधिकारियों की लापरवाही पर जताई नाराजगी
🔳जल्द आपूर्ति सुचारु न होने पर कार्यालय में धरने कि ऐलान
((( टीम तीखी नजर की रिपोर्ट)))

बेतालघाट व रामगढ़ ब्लॉक के गांवों में केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी जल जीवन मिशन योजना लापरवाही का जीता जागता उदाहरण बन चुकी है। बेतालघाट के सुनस्यरी गांव के चालीस से ज्यादा परिवार योजना का कार्य दो वर्ष पूर्व पूरा हो जाने के बावजूद आज भी बूंद बूंद पानी का इंजन कर रहे हैं। मजबूरी में ग्रामीण दूरदराज से पानी लाकर हलक तर कर रहे हैं। ग्राम प्रधान कैलाश पंत ने संबंधित विभाग की अधिशासी अभियंता को पत्र भेज जल्द आपूर्ति सुचारु किए जाने की पुरजोर मांग उठाई है।
जल जीवन मिशन में आए दिन अनियमितताएं सामने आ रही है। रामगढ़ ब्लॉक के क्वारब क्षेत्र में लाखों रुपये का बजट होने के बावजूद पुरानी योजना से कनेक्शन दिए जाने का मामला जोरशोर से उठने के बाद अब बेतालघाट ब्लॉक के सुनस्यारी गांव के ग्राम प्रधान ने मोर्चा खोल दिया है। ग्राम प्रधान कैलाश पंत ने जल निगम रामनगर की अधिशासी अभियंता को ज्ञापन भेज बताया है की सुनस्यारी गांव में दो वर्ष पूर्व जल जीवन मिशन योजना का कार्य पूरा कर लिया गया है बावजूद आज तक योजना से गांव के बाशिंदों को लाभ नहीं मिल सका है। दो वर्ष बीतने के बाद आज तक नलों से पानी की बूंद तक नहीं टपकी है। जिस कारण गांव के चालीस से भी अधिक परिवारों को मजबूरी में दूर दराज रुख कर सिर पर बर्तन रख पानी ढोना मजबूरी बन चुका है‌‌। आरोप लगाया की कई बार जिम्मेदार अधिकारियों को आपूर्ति सुचारु किए जाने को मौखिक व लिखित कह दिया गया हो पर लगातार अनदेखी की जा रही है। ग्राम प्रधान के अनुसार भारी भरकम बजट खर्च होने के बाद योजना का लाभ गांव के बाशिंदों को न मिलना विभागीय अधिकारियों की लापरवाह कार्यप्रणाली की हकीकत बयां कर रहा है। दो टूक चेतावनी दी है की यदि जल्द पेयजल आपूर्ति सुचारु नहीं की गई तो फिर गांव के लोगों को साथ लेकर विभाग के रामनगर स्थित कार्यालय में ही धरना शुरु कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *