🔳पशु लेने पर लिए गए ऋण पर ब्याज में मिलेगा अनुदान
🔳ब्याज का नब्बे फीसदी धनराशि जमा करेगा पशुपालन विभाग
🔳पशुपालक को करनी होगी महज दस फीसदी धनराशि
🔳बेतालघाट ब्लॉक के विभिन्न गांवों के बीस पशुपालकों ने किया आवेदन
((( टीम तीखी नजर की रिपोर्ट)))

गांवो में पशुपालन को बढ़ावा देने के राज्य सरकार ने राज्य पशुधन मिशन योजना तैयार की है। योजना के तहत योजना के लाभार्थियों को ऋण के ब्याज में अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। ब्याज का नब्बे फीसदी विभाग देगा जबकि शेष दस फीसद महज पशुपालक को जमा करना होगा। बेतालघाट ब्लॉक के विभिन्न गांवों के लगभग बीस पशुपालकों ने बकायदा योजना से लाभान्वित होने को आवेदन भी कर दिया है। पशु चिकित्साधिकारी डा. नेहा चौधरी के अनुसार अधिक से अधिक पशुपालकों को योजना से लाभान्वित करने का प्रयास किया जा रहा है।
गांवो में मौसम की मार से खेतीबड़ी चौपट होने के कगार पर पहुंच चुकी है‌। गांवो के बाशिंदों का भी खेती बाड़ी से मोहभंग होता जा रहा है। आय का एकमात्र साधन पशुपालन को बढ़ावा देने को राज्य सरकार भी गंभीरता से कार्य कर रही है। लोगों को पशुपालन से जोड़ने के लिए राज्य सरकार ने महत्वाकांक्षी राज्य पशुधन मिशन योजना तैयार की है। योजना के तहत पशुपालक को न्यूनतम साढ़े तीन लाख रुपये तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए लाभार्थी को बैंक से सहमती पत्र पशुपालन विभाग को उपलब्ध कराना होगा। विभाग आवश्यक कार्रवाई पूरी करने के बाद ऋण उपलब्ध कराने में मदद करेगा। योजना के तहत गाय, भैंस, बकरी, घोड़े आदि के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। यहीं नहीं योजना का शत प्रतिशत लाभ पशुपालक को मिल सके इसके लिए लगातार मॉनिटरिंग भी की जाएगी। योजना की शुरुवात में ही बेतालघाट ब्लॉक के खलाड़, ऊंचाकोट, सिमलखा समेत तमाम गांवों के लगभग बीस लोगों ने योजना के लिए आवेदन भी कर दिया है। ग्रामीणों ने भी योजना को बेहद लाभकारी करार दिया है‌। विभागीय अधिकारियों के अनुसार योजना से पशुपालकों की आर्थिकी में निश्चित ही सुधार आएगा। वहीं पशुपालन विभाग भी योजना के क्रियान्वयन को तेजी से जुट गया है। पशुचिकित्साधिकारी डा. नेहा चौधरी के अनुसार योजना से अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने को गंभीरता से कार्य किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *