🔳गुणवत्ताविहीन निर्माण सामग्री के इस्तेमाल का भी लगाया आरोप
🔳गरमपानी को छोड़ खैरना में पहले कार्य करवाने पर उठाए सवाल
🔳मुनाफे के फेर में जनहित से खिलवाड़ पर जताई नाराजगी
🔳किसान कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव ने भेजा कुमाऊं आयुक्त को ज्ञापन

((( टीम तीखी नजर की रिपोर्ट)))

बाढ़ सुरक्षा कार्यों में गुणवत्ताविहीन निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किए जाने तथा नियमानुसार निर्माण कार्य न किए जाने का मामला तूल पकड़ गया है‌‌। कांग्रेसी नेता ने कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत को ज्ञापन भेज मामले की जांच करवाए जाने की मांग उठाई है। आरोप लगाया है की करोड़ों रुपये के सरकारी बजट से किए गए निर्माण कार्य में अनियमितता बरती गई है।

गरमपानी खैरना बाजार के ठिक पीछे शिप्रा नदी क्षेत्र में करोड़ों रुपये की लागत से हुए बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य की जांच को लंबे समय से मांग उठाए जाने के बाद विभागीय अधिकारियों की अनदेखी से अब किसान कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव कृपाल सिंह मेहरा ने मिलीभगत से गुणवत्ताविहीन निर्माण सामग्री का इस्तेमाल कर किए बाढ़ सुरक्षा कार्यों की जांच को कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत को ज्ञापन भेज दिया है। उपजिलाधिकारी कोश्या कुटोली के माध्यम से कुमाऊं कमिश्नर को भेजे ज्ञापन के माध्यम से कांग्रेसी नेता ने आरोप लगाया है की शिप्रा नदी क्षेत्र में बाढ़ का रुख गरमपानी से खैरना की ओर होता है पर नियमों को ताक पर रख बाढ़ के मुहाने को जोड़ खैरना क्षेत्र में बाढ़ सुरक्षा कार्य करा दिए गए हैं। निर्माण कार्यों में भी शिप्रा नदी की गुणवत्ताविहीन रेत का इस्तेमाल किया गया है। निर्माणाधीन ब्लाक में पत्थरों की भी इस्तेमाल अधिक मात्रा में किया गया है। बताया है की निर्माण कार्यों के दौरान भी गुणवत्ता को लेकर सवाल उठाए गए पर विभागीय अधिकारियों ने अनदेखी कर दी। कांग्रेसी नेता ने कुमाऊं आयुक्त से सरकारी बजट से किए गए गुणवत्ताविहीन कार्यों की निष्पक्ष जांच करवाने तथा गरमपानी क्षेत्र को बचाने के लिए मजबूत बाढ़ सुरक्षा कार्य करवाए जाने की मांग उठाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *